बारा–पर्सामे प्रकृतिका भिषण विपदा, ३५ से बढा मृतकका संख्या

खबरी न्यूज, जनकपुरधाम । नेपालके प्रदेश नंं. २ के बारा और पर्सा जिल्लाके कुछ स्थानमे प्रकृतिका कहर देख देश और विदेश स्तब्ध और चिन्तित है ।

बारा–पर्सामे प्रकृतिका भिषण विपदा, ३५ से बढा मृतकका संख्या

चैत १७ गते ( ३१ मार्च ) शाममे अचानक आया विनाशकारी आँधी–बहेरी ( चक्रवात ) मे परकर अभितक ३५ से ज्यादा लोगोकी जान चली गयी है और सयकडौं लोग घायल हुवे है । प्रकृतिकी इस भिषण वितण्डासे सयकडौं लोग घरविहिन अवस्थामे सडक और खेत–खरीहानमे शरण लिए हुवे है ।
उनलोगोको राहत सहयोगकी अधिक आवश्यकता है, इस बीच प्रदेश नं. २ सरकार ने मृतक परिवारको ३–३ लाख रुपैया सहयोग देनेका घोषणा किया है और घायल सबको उपचार खर्च उपलब्ध करानेका प्रतिबद्धता जाहीर किया है । इसके साथ प्रदेश स्तरीय राहत तथा उद्धार व्यवस्थापन उच्च स्तरीय समितिकी बैठक से प्रदेश सरकार ने तुफानी आँधीसे प्रभावित परिवारके लिए ४ महिनाके भितर प्रि–फ्याब घर बनानेका निर्णय भी किया है । समितिका अध्यक्ष प्रदेशका आन्तरिक तथा कानून मन्त्री ज्ञानेन्द्र कुमार यादवके अनुसार तत्कालके लिए विनाशकारी विपद् पीडितों को त्रिपाल, टेन्ट सहितका अस्थायी बसोबासका व्यवस्था कराया जायगा ।
बैठकसे एक हेल्प डेक्सको निर्माण कर पीडितो के सहयोगका काम शुरुवात करनेका निर्णय भी किया गया है ।
राष्ट्रिय जनता पार्टी ( राजपा ) ने पीडित परिवारके लिए ५ लाख रुपैया सहयोग देनेका घोषणा किया है । एक प्रेस विज्ञप्ती मार्फत राजपा ने सहयोग राशी देनेका घोषणा किया है । इसी बीच मंगल दिन प्रदेश नं. ३ के मन्त्रीपरिषदके बैठक से विनाशकारी आँधीसे पीडित परिवारको आवास और राहतके लिए १ करोड राशी देनेका घोषणा किया है ।
विभिन्न राजनितिक पार्टी, कुछ स्थानीय तह अर्थात नगरपालिका भी आर्थिक सहयोग देनेका घोषणा किया है । इसी तरह नेपाली कांग्रेसका सभापति एवं पूर्व प्रधानमन्त्री शेरबहादुर देउवा ने पार्टीके तर्फ से पीडित परिवारको २५ लाख नगद राहत सहयोगका घोषणा किया है । साथ ही मंगल दिन बेरमे बाराके फेटा गाउँ पालिकामे स्थलगत निरिक्षण करते हुवे अध्यक्ष देउवा ने उद्दार और राहत कार्यमे केन्द्र सरकारकी उपस्थिति कमजोर होन की बात बताई । प्रदेश नं. २ के उद्योग, पर्यटन, बन तथा वातावरण राज्यमन्त्री सुरेश मंडल ने बारा–पर्साके पीडित लोगोको आर्थिक सहयोग देनेका घोषणा किया ।
प्रकृति विपदा स्थल पहुचे राज्यमन्त्री मंडल ने पीडित परिवारों के सहयोगमे अपना एक महिनाका तलब देनेका घोषणा किया है ।
इसी बीच बारा–पर्सामे विनाशकारी आँधी से जान गुमाये परिवारको तत्काल राहत स्वरुप १० लाख रुपैया उपलब्ध कराने के लिए हिन्दु परिषद नेपाल ने संघीय सरकार से मांग किया है ।
इस तरह बारा–पर्सामे हुवे तुफानी आँधी के प्रभावित परिवारके लिए यथोचित  बासस्थान के व्यवस्थापनके लिए संघीय सरकार ने गृहमन्त्रालयको निर्देश दिया है । विनाशकारी तुफानी आँधीके २८ घंटे बाद सोम शाम बालुवाटारमे संघीय सरकारका मन्त्रीपरिषद के बैठक से उद्धारमे हरेक संयन्त्र परिचालन करनेका निर्णय के साथ ही घायलके उपचार खर्च, प्रकोप स्थलमे महामारी फैलने से रोकना और गृहमन्त्रालयद्धारा तथ्यांक संकलन करनेका निर्णय किया गया ।
प्रदेश २ का मुख्यमन्त्री लालबाबु राउत ने सोम दिन प्रधानमन्त्री केपी शर्मा ओली से फोन वार्ता कर राष्ट्रिय शोक घोषणा करनेका मांग किया था लेकिन संघीय सरकार ने राष्ट्रिय शोक तो दुर मृतक परिवारके लिए तत्कालीन राहतका भी घोषणा नहि कर सका । संघीय सरकारके इस रबैया से तराई–मधेश के जनतामे आक्रोश है ।   


Previous
Next Post »